भगवान शिव के अनेक नाम है। जिसमें से 108 नामों का विशेष महत्व है। यहां अर्थ सहित नामों को प्रस्तुत किया जा रहा है। प्रदोष, शिवरात्रि, श्रावण मास, श्रावण सोमवार या प्रति सामान्य सोमवार को इन नामों का स्मरण करने से शिव की कृपा सहज प्राप्त हो जाती है |

108 Names Of Lord Shiva In Hindi  | 1008 Names Of Lord Shiva In Hindi


List Of 108 Names Of Lord Shiva In Hindi 

1008 Names Of Lord Shiva In Hindi  


  • 1. शिव- कल्याण स्वरूप
  • 2. महेश्वर- माया के अधीश्वर
  • 3. शम्भू- आनंद स्वरूप वाले
  • 4. पिनाकी- पिनाक धनुष धारण करने वाले
  • 5. शशिशेखर- सिर पर चंद्रमा धारण करने वाले
  • 6. वामदेव- अत्यंत सुंदर स्वरूप वाले
  • 7. विरूपाक्ष. विचित्र आंख वाले( शिव के तीन नेत्र हैं)
  • 8. कपर्दी- जटाजूट धारण करने वाले
  • 9. नीललोहित- नीले और लाल रंग वाले
  • 10. शंकर- सबका कल्याण करने वाले
  • 11. शूलपाणी- हाथ में त्रिशूल धारण करने वाले
  • 12. खटवांगी- खटिया का एक पाया रखने वाले
  • 13. विष्णुवल्लभ- भगवान विष्णु के अति प्रिय
  • 14. शिपिविष्ट- सितुहा में प्रवेश करने वाले
  • 15. अंबिकानाथ- देवी भगवती के पति
  • 16. श्रीकण्ठ- सुंदर कण्ठ वाले
  • 17. भक्तवत्सल- भक्तों को अत्यंत स्नेह करने वाले
  • 18. भव- संसार के रूप में प्रकट होने वाले
  • 19. शर्व- कष्टों को नष्ट करने वाले
  • 20. त्रिलोकेश- तीनों लोकों के स्वामी
  • 21. शितिकण्ठ- सफेद कण्ठ वाले
  • 22. शिवाप्रिय- पार्वती के प्रिय
  • 23. उग्र- अत्यंत उग्र रूप वाले
  • 24. कपाली- कपाल धारण करने वाले
  • 25. कामारी- कामदेव के शत्रु, अंधकार को हरने वाले
  • 26. सुरसूदन- अंधक दैत्य को मारने वाले
  • 27. गंगाधर- गंगा जी को धारण करने वाले
  • 28. ललाटाक्ष- ललाट में आंख वाले
  • 29. महाकाल- कालों के भी काल
  • 30. कृपानिधि- करूणा की खान
  • 31. भीम- भयंकर रूप वाले
  • 32. परशुहस्त- हाथ में फरसा धारण करने वाले
  • 33. मृगपाणी- हाथ में हिरण धारण करने वाले
  • 34. जटाधर- जटा रखने वाले
  • 35. कैलाशवासी- कैलाश के निवासी
  • 36. कवची- कवच धारण करने वाले
  • 37. कठोर- अत्यंत मजबूत देह वाले
  • 38. त्रिपुरांतक- त्रिपुरासुर को मारने वाले
  • 39. वृषांक- बैल के चिह्न वाली ध्वजा वाले
  • 40. वृषभारूढ़- बैल की सवारी वाले
  • 41. भस्मोद्धूलितविग्रह- सारे शरीर में भस्म लगाने वाले
  • 42. सामप्रिय- सामगान से प्रेम करने वाले
  • 43. स्वरमयी- सातों स्वरों में निवास करने वाले
  • 44. त्रयीमूर्ति- वेदरूपी विग्रह करने वाले
  • 45. अनीश्वर- जो स्वयं ही सबके स्वामी है
  • 46. सर्वज्ञ- सब कुछ जानने वाले
  • 47. परमात्मा- सब आत्माओं में सर्वोच्च
  • 48. सोमसूर्याग्निलोचन- चंद्र, सूर्य और अग्निरूपी आंख वाले
  • 49. हवि- आहूति रूपी द्रव्य वाले
  • 50. यज्ञमय- यज्ञस्वरूप वाले
  • 51. सोम- उमा के सहित रूप वाले
  • 52. पंचवक्त्र- पांच मुख वाले
  • 53. सदाशिव- नित्य कल्याण रूप वाल
  • 54. विश्वेश्वर- सारे विश्व के ईश्वर
  • 55. वीरभद्र- वीर होते हुए भी शांत स्वरूप वाले
  • 56. गणनाथ- गणों के स्वामी
  • 57. प्रजापति- प्रजाओं का पालन करने वाले
  • 58. हिरण्यरेता- स्वर्ण तेज वाले
  • 59. दुर्धुर्ष- किसी से नहीं दबने वाले
  • 60. गिरीश- पर्वतों के स्वामी
  • 61. गिरिश्वर- कैलाश पर्वत पर सोने वाले
  • 62. अनघ- पापरहित
  • 63. भुजंगभूषण- सांपों के आभूषण वाले
  • 64. भर्ग- पापों को भूंज देने वाले
  • 65. गिरिधन्वा- मेरू पर्वत को धनुष बनाने वाले
  • 66. गिरिप्रिय- पर्वत प्रेमी
  • 67. कृत्तिवासा- गजचर्म पहनने वाले
  • 68. पुराराति- पुरों का नाश करने वाले
  • 69. भगवान्- सर्वसमर्थ ऐश्वर्य संपन्न
  • 70. प्रमथाधिप- प्रमथगणों के अधिपति
  • 71. मृत्युंजय- मृत्यु को जीतने वाले
  • 72. सूक्ष्मतनु- सूक्ष्म शरीर वाले
  • 73. जगद्व्यापी- जगत् में व्याप्त होकर रहने वाले
  • 74. जगद्गुरू- जगत् के गुरू
  • 75. व्योमकेश- आकाश रूपी बाल वाले
  • 76. महासेनजनक- कार्तिकेय के पिता
  • 77. चारुविक्रम- सुन्दर पराक्रम वाले
  • 78. रूद्र- भयानक
  • 79. भूतपति- भूतप्रेत या पंचभूतों के स्वामी
  • 80. स्थाणु- स्पंदन रहित कूटस्थ रूप वाले
  • 81. अहिर्बुध्न्य- कुण्डलिनी को धारण करने वाले
  • 82. दिगम्बर- नग्न, आकाशरूपी वस्त्र वाले
  • 83. अष्टमूर्ति- आठ रूप वाले
  • 84. अनेकात्मा- अनेक रूप धारण करने वाले
  • 85. सात्त्विक- सत्व गुण वाले
  • 86. शुद्धविग्रह- शुद्धमूर्ति वाले
  • 87. शाश्वत- नित्य रहने वाले
  • 88. खण्डपरशु- टूटा हुआ फरसा धारण करने वाले
  • 89. अज- जन्म रहित
  • 90. पाशविमोचन- बंधन से छुड़ाने वाले
  • 91. मृड- सुखस्वरूप वाले
  • 92. पशुपति- पशुओं के स्वामी
  • 93. देव- स्वयं प्रकाश रूप
  • 94. महादेव- देवों के भी देव
  • 95. अव्यय- खर्च होने पर भी न घटने वाले
  • 96. हरि- विष्णुस्वरूप
  • 97. पूषदन्तभित्- पूषा के दांत उखाड़ने वाले
  • 98. अव्यग्र- कभी भी व्यथित न होने वाले
  • 99. दक्षाध्वरहर- दक्ष के यज्ञ को नष्ट करने वाले
  • 100. हर- पापों व तापों को हरने वाले
  • 101. भगनेत्रभिद्- भग देवता की आंख फोड़ने वाले
  • 102. अव्यक्त- इंद्रियों के सामने प्रकट न होने वाले
  • 103. सहस्राक्ष- हजार आंखों वाले
  • 104. सहस्रपाद- हजार पैरों वाले
  • 105. अपवर्गप्रद- कैवल्य मोक्ष देने वाले
  • 106. अनंत- देशकालवस्तु रूपी परिछेद से रहित
  • 107. तारक- सबको तारने वाले
  • 108. परमेश्वर- सबसे परम ईश्वर। 


1008 Names Of Lord Shiva

  • 1. Shiva
  • 2. Maheshwara
  • 3. Shambhu
  • 4. Pinakin
  • 5. Shashi Shekhara
  • 6. Vamadeva
  • 7. Virupaksha
  • 8. Kapardi
  • 9. Nilalohita
  • 10. Shankara
  • 11. Shulapani
  • 12. Khatvangi
  • 13. Vishnuvallabha
  • 14. Shipivishta
  • 15. Ambikanatha
  • 16. Shrikantha
  • 17. Bhaktavatsala
  • 18. Bhava
  • 19. Sharva
  • 20. Trilokesha
  • 21. Shitikantha
  • 22. Shivapriya
  • 23. Ugra
  • 24. Kapali
  • 25. Kamari 
  • 26. Andhakasura Sudana
  • 27. Gangadhara
  • 28. Lalataksha
  • 29. Kalakala
  • 30. Kripanidhi
  • 31. Bheema
  • 32. Parshuhasta
  • 33. Mrigpaani
  • 34. Jattadhar
  • 35. Kailashavasi
  • 36. Kawachi
  • 37. Kathor
  • 38. Tripurantak
  • 39. Vrishanka
  • 40. Vrishbharudh
  • 41. Bhasmodhulitavigrah
  • 42. Samapriya
  • 43. Swaramayi
  • 44. Trayimurti
  • 45. Anishvara
  • 46. Sarvagya
  • 47. Paramatma
  • 48. Somasuryaagnilochana
  • 49. Havi
  • 50. Yagyamaya
  • 51. Soma
  • 52. Panchavaktra
  • 53. Sadashiva
  • 54. Vishveshwara
  • 55. Veerabhadra
  • 56. Gananatha
  • 57. Prajapati
  • 58. Hiranyareta
  • 59. Durdharsha
  • 60. Girisha
  • 61. Girishavar
  • 62. Anagha
  • 63. Bujangabhushana
  • 64. Bharga
  • 65. Giridhanva
  • 66. Giripriya
  • 67. krittivasaa
  • 68. Purarati
  • 69. Bhagwaan
  • 70. Pramathadhipa
  • 71. Mrityunjaya
  • 72. Sukshamatanu
  • 73. Jagadvyapi
  • 74. Jagadguru
  • 75. Vyomakesha
  • 76. Mahasenajanaka
  • 77. Charuvikrama
  • 78. Rudra
  • 79. Bhootapati
  • 80. Sthanu
  • 81. Ahirbhudhanya
  • 82. Digambara
  • 83. Ashtamurti
  • 84. Anekatma
  • 85. SATVIKA
  • 86. Shuddhavigraha
  • 87. Shashvata
  • 88. Khandaparshu
  • 89. Aja
  • 90. Pashvimochana
  • 91. Mrida
  • 92. Pashupati
  • 93. Deva
  • 94. Mahadeva
  • 95. Avayaya
  • 96. Hari
  • 97. Bhagnetrabhid
  • 98. Avayayat
  • 99. Dakshadhwarahara
  • 100. Har
  • 101. Pushadantabhit
  • 102. Avyagra
  • 103. Sahsraksha
  • 104. Sahasrapada
  • 105. Apavargaprada
  • 106. Ananta
  • 107. Taraka
  • 108. Parameshwara

108 Names Of Lord Shiva In Hindi With Mantra


  • 1. ॐ शिवाय नमः।
  • Om Shivaya Namah।
  • 2. ॐ महेश्वराय नमः।
  • Om Maheshwaraya Namah।
  • 3. ॐ शंभवे नमः।
  • Om Shambhave Namah।
  • 4. ॐ पिनाकिने नमः।
  • Om Pinakine Namah।
  • 5. ॐ शशिशेखराय नमः।
  • Om Shashishekharaya Namah।
  • 6. ॐ वामदेवाय नमः।
  • Om Vamadevaya Namah।
  • 7. ॐ विरूपाक्षाय नमः।
  • Om Virupakshaya Namah।
  • 8. ॐ कपर्दिने नमः।
  • Om Kapardine Namah।
  • 9. ॐ नीललोहिताय नमः।
  • Om Nilalohitaya Namah।
  • 10. ॐ शंकराय नमः।
  • Om Shankaraya Namah।
  • 11. ॐ शूलपाणये नमः।
  • Om Shulapanaye Namah।
  • 12. ॐ खट्वांगिने नमः।
  • Om Khatvangine Namah।
  • 13. ॐ विष्णुवल्लभाय नमः।
  • Om Vishnuvallabhaya Namah।
  • 14. ॐ शिपिविष्टाय नमः।
  • Om Shipivishtaya Namah।
  • 15. ॐ अंबिकानाथाय नमः।
  • Om Ambikanathaya Namah।
  • 16. ॐ श्रीकण्ठाय नमः।
  • Om Shrikanthaya Namah।
  • 17. ॐ भक्तवत्सलाय नमः।
  • Om Bhaktavatsalaya Namah।
  • 18. ॐ भवाय नमः।
  • Om Bhavaya Namah।
  • 19. ॐ शर्वाय नमः।
  • Om Sharvaya Namah।
  • 20. ॐ  त्रिलोकेशाय नमः।
  • Om Trilokeshaya Namah।
  • 21. ॐ शितिकण्ठाय नमः।
  • Om Shitikanthaya Namah।
  • 22. ॐ शिवा प्रियाय नमः।
  • Om Shiva Priyaya Namah।
  • 23. ॐ उग्राय नमः।
  • Om Ugraya Namah।
  • 24. ॐ कपालिने नमः।
  • Om Kapaline Namah।
  • 25. ॐ कामारये नमः।
  • Om Kamaraye Namah।
  • 26. ॐ अन्धकासुरसूदनाय नमः।
  • Om Andhakasurasudanaya Namah।
  • 27. ॐ गंगाधराय नमः।
  • Om Gangadharaya Namah।
  • 28. ॐ ललाटाक्षाय नमः।
  • Om Lalatakshaya Namah।
  • 29. ॐ कालकालाय नमः।
  • Om Kalakalaya Namah।
  • 30. ॐ कृपानिधये नमः।
  • Om Kripanidhaye Namah।
  • 31. ॐ भीमाय नमः।
  • Om Bhimaya Namah।
  • 32. ॐ परशुहस्ताय नमः।
  • Om Parashuhastaya Namah।
  • 33. ॐ मृगपाणये नमः।
  • Om Mrigapanaye Namah।
  • 34. ॐ जटाधराय नमः।
  • Om Jatadharaya Namah।
  • 35. ॐ कैलाशवासिने नमः।
  • Om Kailashavasine Namah।
  • 36. ॐ कवचिने नमः।
  • Om Kawachine Namah।
  • 37. ॐ कठोराय नमः।
  • Om Kathoraya Namah।
  • 38. ॐ त्रिपुरान्तकाय नमः।
  • Om Tripurantakaya Namah।
  • 39. ॐ वृषांकाय नमः।
  • Om Vrishankaya Namah।
  • 40. ॐ वृषभारूढाय नमः।
  • Om Vrishabharudhaya Namah।
  • 41. ॐ भस्मोद्धूलितविग्रहाय नमः।
  • Om Bhasmodhulitavigrahaya Namah।
  • 42. ॐ सामप्रियाय नमः।
  • Om Samapriyaya Namah।
  • 43. ॐ स्वरमयाय नमः।
  • Om Swaramayaya Namah।
  • 44. ॐ त्रयीमूर्तये नमः।
  • Om Trayimurtaye Namah।
  • 45. ॐ अनीश्वराय नमः।
  • Om Anishwaraya Namah।
  • 46. ॐ सर्वज्ञाय नमः।
  • Om Sarvajnaya Namah।
  • 47. ॐ परमात्मने नमः।
  • Om Paramatmane Namah।
  • 48. ॐ सोमसूर्याग्निलोचनाय नमः।
  • Om Somasuryagnilochanaya Namah।
  • 49. ॐ हविषे नमः।
  • Om Havishe Namah।
  • 50. ॐ यज्ञमयाय नमः।
  • Om Yajnamayaya Namah।
  • 51. ॐ सोमाय नमः।
  • Om Somaya Namah।
  • 52. ॐ पंचवक्त्राय नमः।
  • Om Panchavaktraya Namah।
  • 53. ॐ सदाशिवाय नमः।
  • Om Sadashivaya Namah।
  • 54. ॐ विश्वेश्वराय नमः।
  • Om Vishveshwaraya Namah।
  • 55. ॐ वीरभद्राय नमः।
  • Om Virabhadraya Namah।
  • 56. ॐ गणनाथाय नमः।
  • Om Gananathaya Namah।
  • 57. ॐ प्रजापतये नमः।
  • Om Prajapataye Namah।
  • 58. ॐ हिरण्यरेतसे नमः।
  • Om Hiranyaretase Namah।
  • 59. ॐ दुर्धर्षाय नमः।
  • Om Durdharshaya Namah।
  • 60. ॐ गिरीशाय नमः।
  • Om Girishaya Namah।
  • 61. ॐ गिरिशाय नमः।
  • Om Girishaya Namah।
  • 62. ॐ अनघाय नमः।
  • Om Anaghaya Namah।
  • 63. ॐ भुजंगभूषणाय नमः।
  • Om Bujangabhushanaya Namah।
  • 64. ॐ भर्गाय नमः।
  • Om Bhargaya Namah।
  • 65. ॐ गिरिधन्वने नमः।
  • Om Giridhanvane Namah।
  • 66. ॐ गिरिप्रियाय नमः।
  • Om Giripriyaya Namah।
  • 67. ॐ कृत्तिवाससे नमः।
  • Om krittivasase Namah।
  • 68. ॐ पुरारातये नमः।
  • Om Purarataye Namah।
  • 69. ॐ भगवते नमः।
  • Om Bhagawate Namah।
  • 70. ॐ प्रमथाधिपाय नमः।
  • Om Pramathadhipaya Namah।
  • 71. ॐ मृत्युंजयाय नमः।
  • Om Mrityunjayaya Namah।
  • 72. ॐ सूक्ष्मतनवे नमः।
  • Om Sukshmatanave Namah।
  • 73. ॐ जगद्व्यापिने नमः।
  • Om Jagadvyapine Namah।
  • 74. ॐ जगद्गुरुवे नमः।
  • Om Jagadguruve Namah।
  • 75. ॐ व्योमकेशाय नमः।
  • Om Vyomakeshaya Namah।
  • 76. ॐ महासेनजनकाय नमः।
  • Om Mahasenajanakaya Namah।
  • 77. ॐ चारुविक्रमाय नमः।
  • Om Charuvikramaya Namah।
  • 78. ॐ रुद्राय नमः।
  • Om Rudraya Namah।
  • 79. ॐ भूतपतये नमः।
  • Om Bhutapataye Namah।
  • 80. ॐ स्थाणवे नमः।
  • Om Sthanave Namah।
  • 81. ॐ अहिर्बुध्न्याय नमः।
  • Om Ahirbudhnyaya Namah।
  • 82. ॐ दिगंबराय नमः।
  • Om Digambaraya Namah।
  • 83. ॐ अष्टमूर्तये नमः।
  • Om Ashtamurtaye Namah।
  • 84. ॐ अनेकात्मने नमः।
  • Om Anekatmane Namah।
  • 85. ॐ सात्विकाय नमः।
  • Om Satvikaya Namah।
  • 86. ॐ शुद्धविग्रहाय नमः।
  • Om Shuddhavigrahaya Namah।
  • 87. ॐ शाश्वताय नमः।
  • Om Shashvataya Namah।
  • 88. ॐ खण्डपरशवे नमः।
  • Om Khandaparashave Namah।
  • 89. ॐ अजाय नमः।
  • Om Ajaya Namah।
  • 90. ॐ पाशविमोचकाय नमः।
  • Om Pashavimochakaya Namah।
  • 91. ॐ मृडाय नमः।
  • Om Mridaya Namah।
  • 92. ॐ पशुपतये नमः।
  • Om Pashupataye Namah।
  • 93. ॐ देवाय नमः।
  • Om Devaya Namah।
  • 94. ॐ महादेवाय नमः।
  • Om Mahadevaya Namah।
  • 95. ॐ अव्ययाय नमः।
  • Om Avyayaya Namah।
  • 96. ॐ हरये नमः।
  • Om Haraye Namah।
  • 97. ॐ भगनेत्रभिदे नमः।
  • Om Bhaganetrabhide Namah।
  • 98. ॐ अव्यक्ताय नमः।
  • Om Avyaktaya Namah।
  • 99. ॐ दक्षाध्वरहराय नमः।
  • Om Dakshadhwaraharaya Namah।
  • 100. ॐ हराय नमः।
  • Om Haraya Namah।
  • 101. ॐ पूषदन्तभिदे नमः।
  • Om Pushadantabhide Namah।
  • 102. ॐ अव्यग्राय नमः।
  • Om Avyagraya Namah।
  • 103. ॐ सहस्राक्षाय नमः।
  • Om Sahasrakshaya Namah।
  • 104. ॐ सहस्रपदे नमः।
  • Om Sahasrapade Namah।
  • 105. ॐ अपवर्गप्रदाय नमः।
  • Om Apavargapradaya Namah।
  • 106. ॐ अनन्ताय नमः।
  • Om Anantaya Namah।
  • 107. ॐ तारकाय नमः।
  • Om Tarakaya Namah।
  • 108. ॐ परमेश्वराय नमः।
  • Om Parameshwaraya Namah।

॥ इति श्रीशिवाष्टोत्तरशतनामावलिः सम्पूर्णा ॥


About Of Lord Shiva In Hindi 

शंकर जी को संहार का देवता कहा जाता है। शंंकर जी सौम्य आकृति एवं रौद्ररूप दोनों के लिए विख्यात हैं। अन्य देवों से माना गया है। सृष्टि की उत्पत्ति, स्थिति एवं संहार के अधिपति शिव हैं। त्रिदेवों में भगवान शिव संहार के देवता माने गए हैं। शिव अनादि तथा सृष्टि प्रक्रिया के आदि स्रोत हैं और यह काल महाकाल ही ज्योतिषशास्त्र के आधार हैं। शिव का अर्थ यद्यपि कल्याणकारी माना गया है, लेकिन वे हमेशा लय एवं प्रलय दोनों को अपने अधीन किए हुए हैं। रावण, शनि, कश्यप ऋषि आदि इनके भक्त हुए है। शिव सभी को समान दृष्टि से देखते है इसलिये उन्हें महादेव कहा जाता है। शिव के कुछ प्रचलित नाम, महाकाल, आदिदेव, किरात, शंकर, चन्द्रशेखर, जटाधारी, नागनाथ, मृत्युंजय [मृत्यु पर विजयी], त्रयम्बक, महेश, विश्वेश, महारुद्र, विषधर, नीलकण्ठ, महाशिव, उमापति [पार्वती के पति], काल भैरव, भूतनाथ, ईवान्यन [तीसरे नयन वाले], शशिभूषण आदि। भगवान शिव को रूद्र नाम से जाता है रुद्र का अर्थ है रुत दूर करने वाला अर्थात दुखों को हरने वाला अतः भगवान शिव का स्वरूप कल्याण कारक है। रुद्राष्टाध्याई के पांचवी अध्याय में भगवान शिव के अनेक रूप वर्णित है रूद्र देवता को स्थावर जंगम सर्व पदार्थ रूप सर्व जाति मनुष्य देव पशु वनस्पति रूप मानकर के सराव अंतर्यामी भाव एवं सर्वोत्तम भाव सिद्ध किया गया है इस भाव से ज्ञात होकर साधक अद्वैत निष्ठ बनता है। संदर्भ रुद्राष्टाध्याई पृष्ठ संख्या 10 गीता प्रेस गोरखपुर। रामायण में भगवान राम के कथन अनुसार शिव और राम में अंतर जानने वाला कभी भी भगवान शिव का या भगवान राम का प्रिय नहीं हो सकता। शुक्ल यजुर्वेद संहिता के अंतर्गत रुद्र अष्टाध्याई के अनुसार सूर्य इंद्र विराट पुरुष हरे वृक्ष, अन्न, जल, वायु एवं मनुष्य के कल्याण के सभी हेतु भगवान शिव के ही स्वरूप है भगवान सूर्य के रूप में वह शिव भगवान मनुष्य के कर्मों को भली-भांति निरीक्षण कर उन्हें वैसा ही फल देते हैं आशय यह है कि संपूर्ण सृष्टि शिवमय है मनुष्य अपने अपने कर्मानुसार फल पाते हैं अर्थात स्वस्थ बुद्धि वालों को वृष्टि जल अन्य आदि भगवान शिव प्रदान करते हैं और दुर्बुद्धि वालों को व्याधि दुख एवं मृत्यु आदि का विधान भी शिवजी करते हैं।

The End Of The 108 Names Of Lord Shiva In Hindi. If you find any mistake 108 Names Of Lord Shiva In Hindi please tell us using contact page. and share this post with your friends and thanks for visting my site.